Monday, January 20, 2014

एक गीत - अनकहा ही रह गया कुछ, रख दिया तुमने रिसीवर

चित्र -गूगल से साभार 
एक गीत --अनकहा ही रह गया कुछ 
अनकहा ही 
रह गया कुछ 
रख दिया तुमने रिसीवर |
हैं प्रतीक्षा में 
तुम्हारे 
आज भी कुछ प्रश्न- उत्तर |

हैलो ! कहते 
मन क्षितिज पर 
कुछ सुहाने रंग उभरे ,
एक पहचाना 
सुआ जैसे 
सिंदूरी आम कुतरे ,
फिर किले पर 
गुफ़्तगू
करने लगे बैठे कबूतर |

नहीं मन को 
जो तसल्ली 
मिली पुरवा डोलने से ,
गीत के 
अक्षर सभी 
महके तुम्हारे बोलने से ,
हुए खजुराहो -
अजंता 
युगों से अभिशप्त पत्थर |

कैनवस पर 
रंग कितने 
तूलिका से उभर आये ,
वीथिकाओं में 
कला की 
मगर तुम सा नहीं पाये ,
तुम हंसो तो 
हंस पड़ेंगे 
घर ,शिवाले, मौन दफ़्तर |

सफ़र में 
हर पल तुम्हारे 
साथ मेरे गीत होंगे ,
हम नहीं 
होंगे मगर ये 
रात -दिन के मीत होंगे ,
यही देंगे 
भ्रमर गुंजन 
तितलियों के पंख सुन्दर |
चित्र -गूगल से साभार 

15 comments:

  1. आपका बहुत -बहुत शुक्रिया आदरणीय डॉ मोनिका जी |

    ReplyDelete
  2. अति सुन्दर गीत...
    http://mauryareena.blogspot.in/
    :-)

    ReplyDelete
  3. वह कितना सुन्दर रूमान गीत

    ReplyDelete
  4. बहुत सुन्दर प्रस्तुति...!
    --
    आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल मंगलवार (21-01-2014) को "अपनी परेशानी मुझे दे दो" (चर्चा मंच-1499) पर भी होगी!
    --
    सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है।
    --
    हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
    सादर...!
    डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

    ReplyDelete
  5. अति सुंदर गीत जिसके लिए रचा है, और अभिव्यक्त करने को क्या बचा है।

    ReplyDelete
  6. अहा, पढ़कर आनन्द आ गया। प्रतीकों का सुन्दर उपयोग भाव व्यक्त करने में।

    ReplyDelete
  7. आदरनीय प्रवीण पाण्डेय जी अग्रज अरविन्द मिश्र जी ,रीना जी,अमृता तन्मय जी भाई वाणभट्ट जी भदौरिया जी ,और आदरणीय शास्त्री जी आप सभी का उम्दा टिप्पणी देने के लिए बहुत -बहुत आभार

    ReplyDelete
  8. नए भाव.. नए बिम्ब .. लाजवाब बन गया ये गीत ...

    ReplyDelete
  9. This comment has been removed by the author.

    ReplyDelete
  10. बहुत सुन्दर गीत...
    ~सादर

    ReplyDelete
  11. मन के भावों से सजी मनभावन भावपूर्ण अभिव्यति...

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणी हमारा मार्गदर्शन करेगी। टिप्पणी के लिए धन्यवाद