Monday, October 17, 2011

कला जगत की युवा प्रतिभा -पूनम किशोर

चित्रकार -पूनम किशोर 
e-mail-poonam.kishor@gmail.com
अमिताभ बच्चन को पेंटिंग्स के साथ मधुशाला की प्रति भेंट करती पूनम किशोर

तूलिका के रंग- पूनम किशोर के संग  
तम्बुओं का शहर इलाहाबाद न सिर्फ़ गंगा ,जमुना ,सरस्वती का संगम है वरन यह कला ,संस्कृति और साहित्य का भी एक अनूठा संगम है |यहाँ की सुनहरी  रेत में सदियों से संतों ,कवियों और ज्ञानियों के पवित्र पद चिन्ह पड़ते रहे हैं |इसके मोहक वातावरण में जो फूल खिलते हैं वो कभी महाप्राण निराला ,कभी पन्त ,कभी महादेवी ,कभी फ़िराक कभी अकबर इलाहाबादी ,कभी बच्चन ,कभी भारती और कभी सदी के महानायक अमिताभ बच्चन होकर समूचे विश्व में अपनी खुशबू अपनी आभा विखेर देते हैं | इसी शहर के साहित्याकाश में एक एक पूनम अपनी आभा बहुत चुपचाप और सलीके से विखेरने में कामयाब हो रही है |इस विलक्षण युवा प्रतिभा का नाम है -पूनम किशोर |पूनम का जन्म इलाहाबाद में 04 नवम्बर 1980 को इलाहाबाद में छायाकार और महालेखाकार कार्यालय में लेखाधिकारी श्री मोहनलाल की सुपुत्री के रूप में हुआ था |पूनम के बड़े भाई कमलकिशोर भी एक जाने -माने छायाकार हैं |बचपन से पारिवारिक पृष्ठभूमि के चलते पूनम की रुझान कला ,पेंटिंग्स और स्केचेज की तरफ हो गयी थी |पूनम किशोर ने B.F.A in paintings इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण किया और M.F.A.in paintings की डिग्री भी प्रथम श्रेणी में लखनऊ यूनिवर्सिटी से उत्तीर्ण किया |पूनम किशोर की पेंटिंग्स की प्रदर्शनियां देश की अनेक महत्वपूर्ण कलादीर्घाओं में लगायी जा चुकी हैं |इस युवा प्रतिभा को कई पुरस्कार और सम्मान मिल चुके हैं |सब कुछ यहाँ लिखा नहीं जा सकता है |पूनम का एक और महत्वपूर्ण कार्य अभी हाल में सम्पन हुआ सुप्रसिद्ध कवि हरिवंश राय बच्चन जी की मधुशाला पर हर छंद पर अलग -अलग पेंटिंग्स |इस कृति को भारतीय ज्ञानपीठ अवार्ड वितरण के समय पूनम ने अमिताभ बच्चन को भेंट किया |पूनम किशोर ने कई महत्वपूर्ण हिंदी साहित्यकारों की कृतियों का कवर भी डिजाइन किया है ,जिनमें भारतीय ज्ञानपीठ के निदेशक /लेखक रवीन्द्र कालिया ,उनकी धर्मपत्नी सुप्रसिद्ध कथा लेखिका ममता कालिया ,कैलाश गौतम |महत्वपूर्ण टी० वी० चैनल्स पर पूनम का इंटरव्यू भी प्रसारित हो चुका है |अब तक लोकप्रिय कवि कैलाश गौतम ,शायर बशीर बद्र ,राहत इंदौरी गुलजार ,जावेद अख्तर की कृतियों पर पूनम किशोर के स्केचेज बन चुके हैं |इस समय पूनम किशोर लखनऊ के अलीगंज स्थित  ललित कला अकादमी के स्टूडियो में अपने सृजन पथ पर तन्मयता से अग्रसर हैं |हम पूनम किशोर के उज्ज्वल भविष्य के लिए कामना करते हुए उनके सृजन संसार से आपको भी परिचित करा रहे हैं ---
भारतीय ज्ञानपीठ के निदेशक रवीन्द्र कालिया एकदम बाएं के साथ पूनम किशोर दाएं 
डॉ० धर्मवीर भारती की पत्नी लेखिका पुष्पा भारती के साथ पूनम किशोर 
गीतकार गुलजार के साथ पूनम किशोर


पूनम किशोर द्वारा मधुशाला के लिए बनाई गयी कुछ पेंटिंग्स 
पेंटिंग्स -पूनम किशोर 
पेंटिंग्स -पूनम किशोर 
पेंटिंग्स -पूनम किशोर 

7 comments:

  1. Poonam ko anek shubh kamnayen!

    ReplyDelete
  2. एक नयापन चित्रों में है।

    ReplyDelete
  3. santosh chaturvediOctober 18, 2011 at 7:21 AM

    apne shahar ki navodit kalakar poonam kishor ko shubhkamnaye.
    waqee behtarin paintings hai. aap ka yah kam bahut mahatvapoorna hai tushar jee. ho saka to poonam se ham aagrah karenge Anahad ki cover desiging ke liye. aapko evam poonam jee ko dher sari badhaee.
    santosh chaturvedi.

    ReplyDelete
  4. पूनम किशोर एक प्रतिभा संपन्न सृजन शिल्पी है -बहुत शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  5. पूनम किशोर जी को अनन्य शुभकामनाएं....

    ReplyDelete

आपकी टिप्पणी हमारा मार्गदर्शन करेगी। टिप्पणी के लिए धन्यवाद